Virat Vs Sachin: कोहली ने तोड़ा सचिन तेंदुलकर का यह वर्ल्ड रिकॉर्ड

Virat Vs Sachin Tendulker: क्रिकेट के भगवान सचिन तेंदुलकर के और करीब आए किंग विराट कोहली

किंग विराट कोहली क्रिकेट के भगवान सचिन तेंदुलकर के वनडे में सबसे ज्यादा 49 शतक के विश्व रिकॉर्ड को तोड़ने के और करीब आ गए हैं। उन्होंने गुरुवार को महाराज क्रिकेट संघ स्टेडियम में बांग्लादेश के खिलाफ अपना 48वां शतक तक ठोक डाला। वे इस विश्व कप में ही 50 वनडे शतक लगाने वाले दुनिया के एकमात्र खिलाड़ी बन सकते हैं।

उन्होंने 97 गेंद पर छक्का मार कर अपना शतक पूरा किया। और भारत ने 257 रनो का लक्ष्य सिर्फ 41.3 ओवर में ही हासिल कर लिया। भारत ने ऑस्ट्रेलिया, पाकिस्तान और अफगानिस्तान के बाद लगातार चौथी जीत हासिल करके सेमीफाइनल की और एक और कदम बढ़ा दिया। तीसरी हार के साथ बांग्लादेश की आगे कि राह काफी मुश्किल हो गई हैं।

विराट कोहली ने लगाया अपने करियर का 48 वन वनडे शतक: (Virat Vs Sachin)

सबसे ज्यादा अंतरराष्ट्रीय रन बनाने के मामले में 14 नंबर पर पहुंचे विराट कोहली जब बल्लेबाजी के लिए उतरे तो भारत के 88 रन बन चुके थे। जिसमें रोहित शर्मा 48 रनों के निजी स्कोर पर आउट होने के बाद उन्होंने शुभमन गिल के साथ जिम्मेदारी संभाली। उस समय भारत को जीतने के लिए 169 रन चाहिए थे। पिछले तीन माचो में दो अर्धशतक लगाने वाले विराट शुरुआत से ही ले में नजर आ रहे थे। कभी ऐसा लग ही नहीं पूरे मैच में की बांग्लादेशी गेंदबाज उन्हें आउट भी कर सकते हैं।

13वें में ओवर में हसन महमूद ने उनके खिलाफ लगातार दो नों बोल फेंकी जिसमें भारत के खाते में 8 रन आए। इसी ओवर की पांचवीं गेंद पर उन्होंने गेंदबाज ओवर में छक्का मार कर बताया कि वह भी हवाई शॉट खेल सकते हैं। 27वें ओवर में जब कोहली ने 48 गेंद पर अर्धशतक पूरा किया तो भारत को जीत के लिए 86 रन चाहिए थे।

ऐसा लगता है कि विराट मारने के मूड में ही आए थे। जब लगा की जीत के लिए रन कम बचे हैं तो उन्होंने तेजी पकड़ी। एक समय भारत को जीत और विराट को शतक के लिए 26 रनों की जरूरत थी। उन्होंने 39वें ओवर की पांचवीं गेंद पर लॉन्ग ऑन पर छक्का और अगले ओवर में चौका जड़ा।

इसे भी पढ़ें – Los Angeles Olympics 2028 में लगेंगे चौक – छक्के, क्रिकेट की हुई वापसी

Aspirants Season 2 Trailer: एस्पिरेंट्स सीजन 2 का ट्रेलर हुआ रिलीज, जाने कहां देख सकते हैं

40वैं ओवर की तीसरी गेंद पर उन्होंने डीप कवर पर शॉर्ट मारा, जिस पर एक रन आसानी से मिल जाता, लेकिन कोहली और राहुल ने रन नहीं लिया। इसकी अगली गेंद पर उन्होंने छक्का मारा और ओवर की आखिरी गेंद पर एक रन लेकर स्ट्राइक अपने पास रखी। 41वें ओवर की पहली गेंद पर भी विराट ने रन नहीं लिया। डीप मिड विकेट पर गेंद जाने के बावजूद दोनों बल्लेबाज नहीं दौड़े क्योंकि कोहली अब शतक के लिए खेल रहे थे। इसकी अगली गेंद हसन ने व्हाइट फेंकी तो दर्शक हूंटिग करने लगे।

हसन की अगली गेंद पर उन्होंने दो रन लिए। 41वें ओवर की पांचवीं गेंद पर भी एक रन था लेकिन उन्होंने रन नहीं लिया। ओवर की आखिरी गेंद पर उन्होंने लॉन्ग ऑन पर खेलकर एक रन लिया और स्ट्राइक अपने पास रखी। 42वें पर ओवर की पहले गेंद नसुम ने लेग साइड के बाहर फेंकी लेकिन अंपायर रिचर्ड कैटलबर्ग ने व्हाइट गेंद नहीं दी।

इसकी अगली गेंद विराट कोहली ने लांग ऑन पर खेली फिर भी उन्होंने रन नहीं लिया। ओवर की तीसरी गेंद पर दीप मिड टिकट पर छक्का मार कर उन्होंने अपना शतक पूरा किया। ऐसा कम ही देखने को मिलता है कि कोई बल्लेबाज अपने शतक के लिए इतनी बार सिंगल के लिए ना दौड़ा हो। यह उनके करियर का 48वां वनडे शतक है। जो कि सचिन तेंदुलकर के 49 शतक के विश्व रिकॉर्ड के एक शतक पीछे हैं। अब देखना होगा कि विराट कोहली इस वनडे विश्व कप में सचिन के रिकॉर्ड को तोड़ पाते हैं या नहीं।

Leave a Comment