Navalben Chaudhary Story: 62 वर्ष की आयु में दूध बेचकर 1 करोड़ रुपये का बिज़नेस, पढ़े पूरी कहानी!

Navalben Chaudhary Story : गुजरात की रहने वाली 62 वर्ष की आयु में दूध बेचकर 1 करोड़ रुपये का मुनाफा कामती है यह लाइन आपने कई बार सुनी होगी कि व्यापार करने के लिए हमें कोई डिग्री या महत्वपूर्ण शिक्षा की आवश्यकता नहीं होती, लेकिन व्यापार करने के लिए हमें अनुभव, विश्वास और कठिन मेहनत की आवश्यकता होती है लेकिन इस उम्र में भी, नवलबेन ने अपनी मेहनत और संघर्ष के साथ खुद को एक सफल व्यापारी बना लिया है।नवलबेन ने अपना सफल व्यापार शुरू करने के लिए दूध बेचने का निर्णय लिया, जिसे वह अपने गाँव में कुछ ही दूध प्रदुष्टता वाली गायों से प्राप्त करती थीं।

उन्होंने अपने ग्राहकों को सबसे उत्कृष्ट गुणवत्ता वाला दूध प्रदान करने का प्रतिबद्ध किया और इससे उनका व्यापार तेजी से बढ़ने लगा।महत्वपूर्ण है कि नवलबेन ने अपनी व्यापारिक योजना को सही समय पर और सही तरीके से कारगर बनाया, जिससे उन्हें अच्छा उत्पाद और समर्पित ग्राहकों का समर्थन मिला। आज, उनका व्यापार 1 करोड़ रुपये के क़रीब है, जिससे वह न केवल अपनी ज़िंदगी को सुखद बना रही हैं, बल्कि अपने समुदाय को भी रोजगार का सामर्थ्य प्रदान कर रही हैं।

इसके साथ ही, नवलबेन का कहना है कि जानवरों से उनका बहुत गहरा संबंध है और वे हमेशा इन्हें खुश रखने का प्रयास करती हैं, जिससे उनका डेयरी व्यापार और भी सफल हो रहा है। इसके पीछे उनका सफलता का राज, उनकी मेहनत और सही मार्गदर्शन में छिपा हुआ है।

Name Navalben Chaudhary
Yearलगभग 45 लाख रुपए
Monthलगभग 3.50 लाख रुपए

ऐसे हुई शुरुआत

Navalben Chaudhary Story , जो गुजरात के बनासकांठा जिले के नागाना गांव की निवासी हैं, एक प्रेरणास्त्रोत बन गई हैं जिनकी कहानी में संघर्ष, समर्पण और सफलता की अनगिनत कहानियाँ छिपी हुई हैं। 1959 में जन्मी नवलबेन की उम्र आज 64 वर्ष है, और इन्होंने कभी भी स्कूल का मुंह नहीं देखा है। उनकी शादी बनासकांठा के नागाना गांव में दलसंगभाई चौधरी से हुई, और इसके बाद उन्होंने अपने पशुपालन और दुग्ध उत्पादन के क्षेत्र में काम करना शुरू किया। नवलबेन के पास अब 80 से अधिक भैंस और 45 से अधिक गाय हैं।

Navalben Dalsangbhai Chaudhary Story

केवल पशुपालन से करोड़ों का बिज़नेस

2020 में, नवलबेन दलसंगभाई चौधरी ने अपने दूध के व्यापार में एक करोड़ रुपये से अधिक का मुनाफा कमाया, जिससे वह गुजरात जिले की पहली महिला बन गईं जिन्होंने इस मात्रा में इतना विशाल मुनाफा किया। उनके चार बेटे शहरों में रहकर काम कर रहे थे, लेकिन उनकी कमाई उनकी डेयरी व्यापार के मुनाफे के साथ मेल नहीं खा पा रही थी।

Navalben Chaudhary ने बताया कि उनकी डेयरी में 15 कर्मचारी हैं, जो रोजाना जानवरों की देखभाल, चारा खिलाना और दूध निकालने में सहायक हैं। वह खुद भी सुबह-शाम जानवरों की देखभाल करती हैं और मिलकर अपनी टीम के साथ काम करती हैं। उन्होंने बताया कि वर्ष 2019 में उनकी डेयरी में बिक्री हुई थी और इससे 87.95 लाख रुपये की कमाई हुई थी, जो फिर 2020 में एक करोड़ रुपये को पार कर गई।

Navalben Chaudhary Story Full Interview

सालाना 1 करोड़ की कमाई, दूध बेच 62 साल की दादी कैसे कमाल कर रहीं?।Banas Dairy |Gujarat Election

Navalben Chaudhary की रोमांचक कहानी को सुनो! एक YouTube साक्षात्कार में वह बताएंगी कैसे उन्होंने एक करोड़ से भी ज्यादा के व्यापार की शुरुआत की। साथ ही, उनके मुह से उनकी सफलता के राज भी सुनो! यह साक्षात्कार अद्भुत प्रेरणा भरा है, खासकर 5वीं कक्षा के बच्चों के लिए। इसे न छोड़ें और इस महात्मा कहानी में रूचि लें!

आम पूछे जाने वाले सवाल : Navalben Chaudhary Story

नबलबेन चौधरी के Diary का नाम क्या हैं?

नबलबेन चौधरी के Diary का नाम Banas Diary हैं।

नबलबेन चौधरी की उम्र कितनी हैं?

नबलबेन चौधरी की उम्र इस समय 64 वर्ष की हैं।

नबलबेन चौधरी का पूरा नाम क्या है?

नबलबेन चौधरी का पूरा नाम Navalben Dalsangbhai Chaudhary हैं।

Ananyashree
Ananyashree
Hey! All Around People Here. I Hope That You Are Getting Every Vital Information From Us. Get Connect To Us, In Case You Want More :) Enjoy Your Day.

Recent Articles

Related Stories

Leave A Reply

Please enter your comment!
Please enter your name here