Home Entertainment Arvind Swamy Success Story – फिल्मी करियर गिरता देखकर बिज़नेस में हाथ...

Arvind Swamy Success Story – फिल्मी करियर गिरता देखकर बिज़नेस में हाथ आजमाया, आज बिज़नेस का टर्न ओवर है 3,300 करोड़ रुपये!

0
72
Arvind Swamy Success Story

Arvind Swamy Success Story – दोस्तों भारत की फिल्म इंडस्ट्री बहुत बड़ी फिल्म इंडस्ट्री है और इस इंडस्ट्री में एक से बढ़कर एक सुपरस्टार अपने जलवे बिखेरते आये है ऐसे ही एक एक्टर अरविंद स्वामी है और इन्हीं के बारे में आज हम इस आर्टिकल में बात करने वाले हैं की कैसे उन्होंने 20 साल की उम्र में ही एक्टिंग की शुरुआत कर दी और बात करेंगे उनकी बेतहाशा Arvind Swamy Success Story सक्सेस के बारे।

अरविंद स्वामी फिल्म इंडस्ट्री में एंट्री ली तो कुछ ही समय बाद उनकी पापुलैरिटी बहुत बढ़ गई लेकिन यह स्टारडम ज्यादा देर तक नहीं टीका और उनके साथ एक हादसा हुआ जिसकी वजह से अरविंद स्वामी की जिंदगी बदल गई।

Arvind Swamy Success Story

अरविंद स्वामी अपने जमाने की साउथ इंडस्ट्री के बहुत बड़े नामचीन एक्टर रहे हैं उन्होंने अपने करियर की शुरुआत 1991 में सिर्फ 20 साल की उम्र में फिल्म थलपति से की थी, इस फिल्म में उन्होंने महाभारत से इंस्पायर अर्जुन का एक ऐसा किरदार निभाया था जिस किरदार को लोग आज भी पसंद करते हैं। अरविंद स्वामी ने अपने करियर की शुरुआत में ही दो बेहद सक्सेसफुल फिल्में दी जिनमें से एक फिल्म 1992 में आई रोज़ा और दूसरी फिल्म 1995 में बॉम्बे है।

Arvind Swamy Success Story

इन दोनों फिल्मों में अरविंद स्वामी ने अपने खूबसूरत अभिनय से लोगों का दिल जीत लिया था। और इन फिल्मों की वजह से उनकी इंडस्ट्री में अलग पहचान बन गई। स्वामी ने अपने एक्टिंग करियर में काजोल से लेकर मनीषा कोइराला और कंगना रनौत जैसी कई टैलेंटेड एक्ट्रैस के साथ काम किया।

Debue In 1991 (1991 में अपनी पहली मूवी थलपति से डेब्यू किया)

जब अरविंद स्वामी महज़ 20 साल के थे तब उन्होंने 1991 में आई फिल्म थलपति से अपने एक्टिंग करियर की शुरुआत की। इस फिल्म में उन्होंने महाभारत से प्रेरित अर्जुन का किरदार निभाया था। अरविंद स्वामी अपने करियर में कई फीट फिल्में दी दी लेकिन उनके जीवन में एक समय ऐसा आया जब उनकी कई फिल्में फ्लॉप होने लग गई और एक समय ऐसा भी आया कि उन्हें फिल्म के ऑफर तो मिल रहे थे लेकिन लीड रोल से उन्हें हाथ धोना पड़ा।

लेकिन अच्छी बात यह है कि उन्होंने अपने करियर में 1991 से लेकर 1995 तक थलापति,  रोज़ा, और बॉम्बे जैसी बेहतरीन तमिल फिल्म में दी थी।

एक हादसे से उनके करियर की दिशा बदल गयी

अरविंद स्वामी का करियर ठीक-ठाक चल रहा था लेकिन बीच में एक समय ऐसा आया जब उनको फिल्मों से बाहर निकाल दिया गया और यह भी बताते चले कि उनकी दो फिल्मों को तो प्रोडक्शन के बीच में ही बंद कर दिया है।

Arvind Swamy Biography & Unknown Facts | Arvind Swamy Family | Arvind Swamy Movies | Roja | Bombay

अब उनके करियर का ग्राफ गिरता जा रहा था ऐसे में उन्होंने एक्टिंग इंडस्ट्री को अलविदा कह दिया, और साथ ही साल 2005 में उनका एक्सीडेंट हो गया और इस हादसे के बाद अरविंद स्वामी का पैर पैरालाइज हो गया। और उसके बाद लगभग चार से पांच साल तक उनका इलाज चलता रहा।

गिरते करियर को देख बिज़नेस मे हाथ आजमाया

जब अरविंद स्वामी ने अपने गिरते करियर को दिखा तो उन्होंने समय खराब ना करते हुए अपने पिता के बिजनेस में हाथ बताना शुरू किया, आपको बता दें कि अरविंद स्वामी ने बिजनेस में अपना सिक्का ऐसा बुलंद किया (Arvind Swamy Success Story) कि वह दिन दोगुनी, रात चौगुनी तरक्की करते चले गए।

और आज की बात करते हैं एक रिपोर्ट के मुताबिक अरविंद स्वामी की कंपनी ने साल 2022 में 418$ (3,300 करोड़ रुपये) टर्नओवर किया था।

आखिरी बार कंगना रनौत संग फ़िल्म मे आये नज़र

बताते चलें कि लगभग एक दशक के बाद अरविंद स्वामी ने साल 2013 में आई फिल्म का ‘कदल‘ से दोबारा अपने एक्टिंग करियर की शुरुआत की। साल 2021 में जय ललिता के जीवन पर आधारित फिल्म थलाईवी में वह एमजीआर की भूमिका में दिखाई दिए थे, इस फिल्म में उनकी एक्टिंग काफी जबरदस्ती थी और साथ ही साथ लोगों ने उनके किरदार को काफी सराहा था अरविंद स्वामी आखरी बार फिल्म कस्टडी में नजर आए थे।

ALSO READ

No Comments

Leave A Reply

Please enter your comment!
Please enter your name here