Rishabh Sharma Scam – सब्जी बेचने वाले  ने Cyber Fraud से सिर्फ 6 महीने में 21 करोड़ ठग लिए!

Rishabh Sharma Scam – आये दिन खबरों में साइबर क्राइम के मामले आते रहते हैं और लोगों के साथ थकी होते रहते हैं ऐसे ही एक मामला उत्तराखंड का सामने आया है जहां पर उत्तराखंड पुलिस के हाथों एक ऐसा टाइम साइबर ठग लगा है जिस पर 10 राज्यों में से किस बीच ज्यादा मुकदमे दर्ज थे हिरण करने वाली बात यह है कि साइबर अटैक करने वाले आरोपी ने ठंडी के जरिए इतने लोगों को शिकार बनाया है कि उसने सिर्फ 6 महीने में ही एक 21 करोड रुपए कमा लिए।

फरीदाबाद में सब्जी का ठेला लगाने वाले ऋषभ शर्मा ने लॉकडाउन में काम बंद हो जाने के कारण साइबर ठगी की ओर अपना रुख किया और लोगों को साइबर ठगी का शिकार बनाया।

Rishabh Sharma Scam

खबरों के अनुसार आरोपी साइबर फ्रॉड ऋषभ शर्मा फरीदाबाद में फल फ्रूट का ठेला लगाया करता था लेकिन लॉकडाउन लगने के कारण उसका काम पूरी तरह बंद हो गया और इसके बाद वह अपने एक पुराने दोस्त से संपर्क में आया जो पहले से ही साइबर ठगी की जरिए पैसे कमा रहा था,

फिर होना क्या था ऋषभ के दोस्त ने ऋषभ को भी साइबर ठगी की दुनिया में बुला लिया और वह भी साइबर ठगी के गुर  सीख गया। उत्तराखंड पुलिस ने ऋषभ शर्मा को 28 अक्टूबर को गिरफ्तार किया है।

Wrong step taken to support family during lockdown (लॉकडाउन मे फेमिली को सपोर्ट करने के लिए उठाया ग़लत क़दम)

जब लॉकडाउन लगा तो पूरी दुनिया एक खुली जेल बन गई सभी के काम धंधे ठप्प पड़ गए, ऋषभ भी सब्जी बेचने का काम करता था और उसका भी काम धंधा चौपट हो गया और घर बैठ गया ऐसे मे उसने सब तरफ हाथ पैर मारना शुरू किया ताकि किसी न किसी तरह वह घर बैठे पैसे कमा सके ऐसा रास्ता खोजना शुरू किया

इसी बीच उसकी मुलाकात अपने पुराने दोस्त से हुई जो पहले से ही ऑनलाइन स्कीम के मामलों में शामिल था और वह भी यह काम कर रहा था उसके दोस्त ने ऋषभ (Rishabh Sharma Scam) को को फोन नंबरों की एक लिस्ट दी जिसका इस्तेमाल ऋषभ ने लोगों को कॉल करने के लिए किया।

Friend pushed into the world of cyber crime (दोस्त ने साइबर क्राइम की दुनिया में धकेला)

जब ऋषभ लॉकडाउन के दौरान घर पर बैठा था और उसका कारोबार ठप हो चुका था तब उसकी मुलाकात अपने पुराने दोस्त से हुई जो पहले से ही साइबर फ्रॉड की दुनिया में था ऋषभ ने अपने दोस्त से साइबर फ्रॉड के गुर सीखें और यह सीखने के बाद उसने भी ऑनलाइन स्कीम की दुनिया में कदम रख लिया और महज़ 6 महीने में 21 करोड रुपए लोगों से ठग लिए।

People were lured by the promise of work from home (वर्क फ्रॉम होम का झांसा देकर लोगो को चुना लगाया)

ऋषभ उन लोगों को नक़ली नौकरी का झांसा देता था (Rishabh Sharma Scam) और उनके साथ फ़्रॉड करता था ऋषभ का आखिरी शिकार देहरादून का एक बिजनेसमैन था जिसको ऋषभ द्वारा 20 लख रुपए का नुकसान उठाना पड़ा। ऋषभ ने एक नकली वेबसाइट बनाई जो हूं बहू मैरियट बॉनवोय होटल की वेबसाइट की तरह दिखती थी।

10 राज्यों में फैलाया ठगी का महाजाल, पुलिस भी रह गई दंग.| 21 Crore Scam | Work From Home Scam

ऋषभ ने ने लोगों को होटल के लिए पार्ट टाइम रिव्यूज लिखने के लिए नौकरी पर रखने की बात कहीं और उसने लोगों को मैरियट बॉनवोय होटल से जुड़ा हुआ होने का दावा किया इस बात से उसने लोगों का भरोसा जीता।

keep distance from such people (ऐसे लोगों से दूरी बनाये रखे)

अगर आप भी आर्थिक तंगी से जूझ रहे हैं और पैसे की व्यवस्था नहीं हो रही है तो गलत रास्ते पर न जाए बल्कि किसी ना किसी तरह सही काम करके ही पैसे कमाए क्योंकि अगर आप एक बार गलत रास्ते पर निकल जाओगे तो फिर उस रास्ते से वापस आना मुश्किल होगा।

ALSO READ

Leave a Comment